Asthma Treatment

Asthma Treatment : अस्थमा एक एलर्जी का रोग है।जो शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होने पर श्वास नलिकाओं अथवा हृदय (Heart) के प्रभावित होने पर होता है। एलोपैथिक मानते हैं कि दमा शरीर के अंदर स्थित रसायन के उग्र रूप धारण करने से होता है।

दमा प्रकोप के दौरान श्वास नलिका ओं की अनैच्छिक मांसपेशियों में संकुचन (सिकुड़न)होने लगता है फल स्वरुप आने जाने वाली वायु की मात्रा कम हो जाती है शोषण को सामान्य करने के लिए रोगी को सहायक मांसपेशियों की सहायता लेनी पड़ती है।
 
 

      types of asthma  

 
दमा दो प्रकार का होता है।
 
1. Bronchial asthma definition
 
इसमें श्वास नलिकाएं सिकुड़ जाती है, जिससे सांस लेने में कठिनाई होती है।
 
2. Cardiac Asthma-
 
ये हृदय दुर्बलता के कारण होता है। इसमें हृदय पर्याप्त मात्रा में रक्त परिसंचलन नहीं कर पाता, जिससे अंगो को ऑक्सीजन कम मात्रा में मिलती है।
 

symptoms of asthma :-

  • श्वास लेने में कठिनाई व पसीना आना।
  • अत्यधिक मात्रा में नाक से कफ निकलना।
  • दम घुटने का आभास होना।
  • श्वास लेते समय सिटी के जैसी आवाज आना।
  • बेचैनी, अवसाद व खांसी होना।
  • रोगी का झुक कर चलना, सीधा लेट न पाना।
  • थोड़ी सा काम  से श्वास अत्यधिक फूलने लगना।

asthma causes

  • अत्यधिक कब्ज के कारण।
  • स्नायुमंडल की दुर्बलता।
  • श्वास नली में सूजन आने के कारण।
  • आनुवांशिक कारण, एलर्जी व उत्तेजना।
  • मनोवैज्ञानिक कारण – ईर्ष्या, क्रोध, घृणा
  •  अकेलापन, भावनात्मकता अति संवेदनशीलता।

Asthma Treatment 

एक्यूप्रेशर एक प्राकृतिक चिकित्सा विज्ञान है, जिसमें ऊर्जा को संतुलित कर के शरीर को ठीक करने की विधि  सन्नीहित है।
 
सुजोक 
 
हाथ एवं पैर के तलवों के बिंदुओं को दबाव देकर उपचार की वैज्ञानिक विधि को सूजोक कहते हैं।
दमा का रोग ऊर्जा के घटने से होता है, क्योंकि इसमें कफ की अधिकता व श्वास लेने में समस्या होती है
। इसलिए ऊर्जा बढ़ाने के लिए इन अलग अलग विधियों का प्रयोग करेंगे तो आइए देखते है कोनसी है वो विधि

 

सामान्य दाब विधि

बाएं हाथ की उंगली व हठेली पर दिखाए गए अग्न्याशय के सदृश मानकों पर स्टार मैग्नेट का प्रयोग करके इलाज कर सकते है।
Asthma Treatment
Acupressure Points for Asthma apply star megnet
 

समान दाब विधि

अस्थमा को फेफड़े से घटी हुई ऊर्जा बढ़ा कर तथा मानसिक तनाव को घटाकर दूर किया जा सकता है। इसलिए फेफड़े पर ऊर्जा बढ़ाने के लिए सफेद ब्योल मैग्नेट तथा मानसिक तनाव घटाने के लिए पीला बयोल  मैग्नेट का प्रयोग किया जाएगा। जैसा कि नीचे इम में दिखाया गया है।
Acupressure Points for Asthma apply beyol megnet
Acupressure Points for Asthma apply beyol megnet
 

रंग चिकित्सा

फेफड़े की घटी हुई ऊर्जा को बढ़ाने के लिए नारंगी रंग का व मानसिक तनाव को घटाने के लिए नीला रंग का प्रयोग किया जाएगा जैसा कि इमेज में दिखाया गया है। और अपेंडिक्स पर लाल रंग एलर्जी दूर करने के लिए।
Acupressure Points for Asthma apply color therapy
Acupressure Points for Asthma apply color therapy

Seed चिकित्सा

उंगली व अंगूठे पर  फेफड़े के सदृश प्वाइंट पर मेथी पट्टी लगा कर।
Acupressure Points for Asthma apply seed therapy
Acupressure Points for Asthma apply seed therapy
 

क्या acupressure se अस्थमा का इलाज हो सकता है?

हां बिल्कुल

अस्थमा के क्या लक्षण है?

सांस लेने में परेशानी होना सीटी के जैसी आवाज आना आदि

Leave a Reply