साइटिका के लिए एक्यूप्रेशर पॉइंट | Sciatica ke liye Acupressure Points

 आज के इस ब्लॉग में आप को साइटिका क्या है।साइटिका दर्द के लक्ष्य, कारण व एक्यूप्रेशर पॉइंट्स  से कैसे साइटिका दर्द का घर पर रह कर इलाज कर सकते है मै इस ब्लॉग में सरल भाषा व फोटो की सहायता से आप को समझाने की कोशिश करूंगा अंत तक ब्लॉग को जरूर पढ़ें ताकि अच्छे से आप को समंझ आ सके।

  Sciatica ke liye Acupressure Points साइटिका की नस कूल्हे के नीचे से शुरू होकर पैर के पिछले भाग से गुजरती हुई पांव की हड्डी पर जा कर खत्म होती है। इस ही साइटिका कहते है.                                       

   साइटिका का दर्द अचानक या तेज दर्द के साथ शुरू होता है।साइटिका का दर्द एक समय मे एक ही पैर में होता है और साथ मे हल्का हल्का बुखार भी रहता है। यह रोग लगभग 30 से 50 साल की  उम्र में होता है।

Sciatica nerve pain के लक्षण

  • पैर में दर्द व पैर को मोड़ने में परेशानी होना।
  • जकड़न, फड़कन होना।
  • रात के समय दर्द का बढ़ जाना, लगड़ाते हुए चलना।
  • पैर के पिछले हिस्से में तेज दर्द होना।
  • कमर के निचले हिस्से में दर्द होना।
  • खाँसने व छीकने से दर्द होना।

Sciatica nerve pain के कारण

  •  नसों में कमजोरी आने के कारण व उन पर दबाव पड़ने के कारण सायटिका का दर्द होने लगता है।
  • रीड की हड्डी में L 5 व S1 और S2 नाड़ी मूलों के मिलने से साइटिका नाड़ी का निर्माण होता है।

साइटिका के लिए एक्यूप्रेशर पॉइंट

एक्यूप्रेशर पॉइंट पर सामान्य दाब, समान दाब, रंग चिकित्सा व सीड थेरेपी से ऊर्जा को संतुलित करके साइटिका दर्द का इलाज कर सकते है तो आइए जानते है वे कौन कौन से है और कहाँ है वे पॉइंट, ये पॉइंट हमारे हाथों और पावँ में होते है।

सामान्य दाब विधि से

साइटिका के लिए फ़ोटो में दिखाए गए ब्लैक रंग के पॉइंट पर स्टार मैगनेट का प्रयोग करके।

sciatic nerve pain का इलाज के लिये स्टार मैगनेट
साइटिका दर्द का इलाज के लिये स्टार मैगनेट

समान दाब विधि ब्योल मैगनेट से

साइटिका में घटी हुई ऊर्जा को ब्योल मैगनेट से बढ़ा कर साइटिका के दर्द को दूर किया जा सकता है। कै ब्योल और चकरा मैगनेट फ़ोटो में दिखाये अनुसार लगाए।

ब्योल मैगनेट से ऊर्जा घटा कर साइटिका इलाज
ब्योल मैगनेट से ऊर्जा घटा कर साइटिका इलाज

रंग चिकित्सा विधि से

साइटिका में घटी हुई ऊर्जा को बढ़ाने के लिए नीचे दिखाए गए फोटो में लाल रंग लगा कर।

साइटिका दर्द के लिए लाल रंग लगा कर
साइटिका दर्द के लिए लाल रंग लगा कर

सीड (बीज) थेरेपी से

पावँ पर फोटो में दिखाए गए जगह पर चना व मेथी की पट्टी को लगा कर। जो लम्बी लाइन है वहाँ चना पट्टी लगानी है।

साइटिका के लिए चना व मेथी पट्टी से इलाज
साइटिका के लिए चना व मेथी पट्टी से इलाज

ये भी पढ़े :- कमर दर्द को ठीक करने का जादुई पॉइंट

Leave a Reply